with love to indore

Sunday, July 5, 2009

Andher nagari chouapat Raja

Should not he concentrate more on rain harvesting or completing all pending water resources projects in state??

http://in.jagran.yahoo.com/news/local/madhyapradesh/4_7_5589443/

भोपाल। भगवान इंद्र प्रदेश पर मेहरबान हों, इसके लिए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बाबा महाकाल को मनाने में जुटे हुए हैं। फरवरी से शुरू हुआ सिलसिला 5 जुलाई को महाकाल की नगरी उज्जैन के निवासियों को भर पेट भोजन कराने के साथ समाप्त होगा। भोज की मेजबानी का जिम्मा और खर्च शिवराज खुद उठा रहे हैं। भोज में लगभग पचास हजार लोगों के भोजन का इंतजाम होगा।

मध्य प्रदेश में पिछले दो साल से कम वर्षा हो रही है। बुंदेलखंड, बघेलखंड और ग्वालियर अंचल में दो साल पहले सूखा पड़ गया था। इस साल ठीकठाक पानी नहीं बरसा तो पीने के पानी के साथ-साथ बिजली के लिए भी मारामारी मच जायेगी। सो, इस बार प्रदेश भर में वर्षा के लिए तमाम टोटके आजमाये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने भी भगवान को मनाने का बीड़ा उठा लिया है। फरवरी माह में उन्होंने गणेश पूजन के साथ कम बारिश वाले इलाकों में सोमयज्ञ कराने का संकल्प लिया। संकल्प दिलाया शोलापुर महाराष्ट्र के श्री योगीराज वेद विज्ञान आश्रम के सोमाजी नाना काले ने। कहा जा रहा है कि पिछले साल इस आश्रम ने मध्य प्रदेश विज्ञान और प्रौद्योगिकी परिषद की मदद से जिन-जिन स्थानों पर सोमयज्ञ कराये थे, वहां इसके परिणाम काफी सकारात्मक रहे। इसीलिए इस साल भी इसी आश्रम की सेवा ली गई और लोगों की उम्मीद भी कुछ ज्यादा ही जुड़ गई है। उज्जैन में गत 13 मार्च को सोमयज्ञ की पूर्णाहुति हुई थी, जिसमें मुख्यमंत्री ने भी शिकरत की थी। इसके बाद उज्जैन में ही अतिरुद्राभिषेक शुरू हुआ। उस दिन चौहान सपत्‍‌नीक उज्जैन में भजन-कीर्तन करते घूमते रहे। ग्यारह दिवसीय इस महाभिषेक की पूर्णाहुति 5 जुलाई को हो रही है। इसी अवसर पर नगर भोज का आयोजन रखा गया है।

2 comments:

  1. Dear sir,
    Shivraj has made chanal length of 3400 KM in past 8 years.If you want to see go to omkareshwar.Punasa and all.But point is river should also have water.We cannot trap whole of narmada in our canals cze Gujrat people are also dependent on narmada.
    Its some thing like " he had done his job and God is now making him wait for results."

    You are right about other matters such as loot and docoyt in Indore.The senseless construction of roads and all projects to only one company SOM projects.Teacher`s counseling flaws are same.

    ReplyDelete
  2. dude just go for reports of state planning commission by Mr Sompal
    MP is not using even 25% of its allocated quota of narmada river and this will lapse after 25 years.

    don't make lame excuses.
    someone whose full energy was concentrated on saving the chair and encouraging people to marry at government's expense to add numbers to our increasing population can be expected to not understand these issues.

    while in south india elections are fought and lost on issue of water harnessing.

    ReplyDelete